@ARPITAARYA ये जिन्दगी कुछ सवाल करती है, सवाल बे हिसाब करती है ढूँढ लू अगर जवा

[ad_1]

@ARPITAARYA
ये जिन्दगी कुछ सवाल करती है,
सवाल बे हिसाब करती है
ढूँढ लू अगर जवाब सवाल का,
………………………………..
Complete this shayari
[ad_2]

Source by Neel Kamal Pathak

Leave a Reply