हर क़सूर का जिम्मेदार ठहराया है, बेवजह हमको हर पल रुलाया है। यूँ बेरहम तो न थे क

[ad_1]

हर क़सूर का जिम्मेदार ठहराया है,
बेवजह हमको हर पल रुलाया है।
यूँ बेरहम तो न थे कभी तुम,
ज़ख्म दे कर तुमने ही उनपर नमक लगाया है।।
©शमी

#ItsALoveStory #shayari #LoveStory #breakup #misunderstanding #hindiquotes/">quotes #hindipoetry #UrduPoetry
@bkarwadiya @kaus_tough
@iajayarya
[ad_2]

Source by S H A M I

Leave a Reply