You are currently viewing हँस कर अपनी जुल्फें जब भी झटके वो
हर मौसम बारिश वाला हो जाता है

मैं तो यूँ ही ब
-कर-अपनी-जुल्फें-जब-भी-झटके-वो-हर-मौसम

हँस कर अपनी जुल्फें जब भी झटके वो हर मौसम बारिश वाला हो जाता है मैं तो यूँ ही ब

[ad_1]

हँस कर अपनी जुल्फें जब भी झटके वो
हर मौसम बारिश वाला हो जाता है

मैं तो यूँ ही बुनता हूँ ग़ज़लें अपनी
उसके नाम का क्यूँ चर्चा हो जाता है

~ गौतम राजऋषि

#गौतम_की_शायरी #UrduShayari #HindiShayari #Prem #Ishq #Shayari #Ghazal #GautamRajrishi #UrduPoetry #Love #NeelaNeela https://t.co/V2apncDzFG
[ad_2]

Source by गौतम की कलम से

Leave a Reply