You are currently viewing माँ से बिछड़ा , घर वालों से दूर हुआ
यारो की याद बहुत आयी
एक एक करके जब सबकुछ मैं
माँ-से-बिछड़ा-घर-वालों-से-दूर-हुआ-यारो

माँ से बिछड़ा , घर वालों से दूर हुआ यारो की याद बहुत आयी एक एक करके जब सबकुछ मैं

[ad_1]

माँ से बिछड़ा , घर वालों से दूर हुआ
यारो की याद बहुत आयी
एक एक करके जब सबकुछ मैंने छोड़ दिया
कुछ पाने की कीमत यार समझ में तब आयी।।
#aryanmishra2727
@manojmuntashir @DrKumarVishwas @riteshrajwada @AalokTweet
@shayari @Rekhta @hindi_house_ https://t.co/tkKKfuDCDn
[ad_2]

Source by Aryan Mishra