महकती हैं तेरी यादें मेरे दिलो जिगर में, लोग समझते हैं इत्र लगाए फिरते हैं हम..

[ad_1]

महकती हैं तेरी यादें मेरे दिलो जिगर में,
लोग समझते हैं इत्र लगाए फिरते हैं हम..
#ashishsophatquotes #shayari
[ad_2]

Source by Ashish Sophat

Leave a Reply