दूर रहकर भी, खुश रहता है वो। कोई मोहब्बत करना, उससे सीखे। – Rohtash Maurya #sha

[ad_1]

दूर रहकर भी,
खुश रहता है वो।
कोई मोहब्बत करना,
उससे सीखे।

– Rohtash Maurya
#shayari #poem #poetry #rohtash_maurya
[ad_2]

Source by Rohtash Maurya

Leave a Reply