थोड़ी खुद्दारी भी लाजिमी थी दोस्तो, उसने हाथ छुड़ाया तो हमने छोड़ दिया। #Jaipur

[ad_1]

थोड़ी खुद्दारी भी लाजिमी थी दोस्तो,
उसने हाथ छुड़ाया तो हमने छोड़ दिया।
#Jaipur #Shayari #LoveScenery
#हिंदी_शब्द #शायरी #बज़्म #शायरांश #शायरी_संग्रह
[ad_2]

Source by Manisha Choudhary

Leave a Reply