खड़े है खरीदार मुझे देखने के लिए, मैं घर से निकाला था बाजार देखने के लिए, हर एक

[ad_1]

खड़े है खरीदार मुझे देखने के लिए,
मैं घर से निकाला था बाजार देखने के लिए,
हर एक लफ्ज़ में चिंगारी भरी है,
कलेजा चाहिए अखबार देखने लिए…
राहत इंदौरी साहब
#Vaccine_और_MSP_दो #shayari #बज्म #शायरांश
[ad_2]

Source by Baaghi®️