कहने, सुनाने को कुछ वक़्त तो दिया करो, यूँ हर बार की मसरूफियत,अच्छी तो नहीं… –

[ad_1]

कहने, सुनाने को कुछ वक़्त तो दिया करो,
यूँ हर बार की मसरूफियत,अच्छी तो नहीं…
– आशीष सोफत
#ashishsophatquotes/">quotes #shayri #shayari
[ad_2]

Source by Ashish Sophat

Leave a Reply