खुबसूरत मेरी शायरी नहीं तेरी मोहब्बत हैं जो नुर बन कर झलकती है मेरे लफ्जों में …

खुबसूरत मेरी शायरी नहीं तेरी मोहब्बत हैं जो नुर बन…

Continue Readingखुबसूरत मेरी शायरी नहीं तेरी मोहब्बत हैं जो नुर बन कर झलकती है मेरे लफ्जों में …

खूबसूरत मेरी शायरी नही तेरी मोहब्बत है जो नूर बन कर झलकती है मेरे लफ़्ज़ों में….

खूबसूरत मेरी शायरी नही तेरी मोहब्बत है जो नूर बन…

Continue Readingखूबसूरत मेरी शायरी नही तेरी मोहब्बत है जो नूर बन कर झलकती है मेरे लफ़्ज़ों में….

खूबसूरत मेरी शायरी नहीं तेरी मोहब्बत है, जो नूर बन कर झलकती है मेरे लफ्जों में…..

खूबसूरत मेरी शायरी नहीं तेरी मोहब्बत है, जो नूर बन…

Continue Readingखूबसूरत मेरी शायरी नहीं तेरी मोहब्बत है, जो नूर बन कर झलकती है मेरे लफ्जों में…..

सुना है अब वो हमसे बात करना चाहता है… जा कर उसे कह दो…अब हम में वो बात नही …

सुना है अब वो हमसे बात करना चाहता है... जा…

Continue Readingसुना है अब वो हमसे बात करना चाहता है… जा कर उसे कह दो…अब हम में वो बात नही …

हर शय में हर बसर में नजर आ रहा है तूं… सजदे में अपने सर को मै झुकाऊँ कहाँ कहाँ…

हर शय में हर बसर में नजर आ रहा है…

Continue Readingहर शय में हर बसर में नजर आ रहा है तूं… सजदे में अपने सर को मै झुकाऊँ कहाँ कहाँ…

चलो तुम भी कुछ लिख दो ना अपनी शायरी में…. लिख दो कि तुम्हें भी मुझसे मोहब्बत …

चलो तुम भी कुछ लिख दो ना अपनी शायरी में....…

Continue Readingचलो तुम भी कुछ लिख दो ना अपनी शायरी में…. लिख दो कि तुम्हें भी मुझसे मोहब्बत …