You are currently viewing khubsurti ki tareef shayari in hindi
khubsurti-ki-tareef-shayari-in-hindi

khubsurti ki tareef shayari in hindi

musqurate hain to bijliya gira deti hain, baat karte hain to deewana bana deti hain, husan walo ki nazar kam nahi qayamat se, aag pani mein wo nazaron se laga deti hain… मुस्क़ुरते हैं तो बिजलिया गिरा देती हैं, बात करते हैं तो दीवाना बना देती हैं, हुस्न वालो की नज़र काम नहीं क़यामत से, आग पानी में वो नज़रों से लगा देती हैं… khubsurti ki tareef shayari in hindi

khubsurti ki tareef shayari in hindi
musqurate hain to bijliya gira deti hain, baat karte hain to deewana bana deti hain, husan walo ki nazar kam nahi qayamat se, aag pani mein wo nazaron se laga deti hain… मुस्क़ुरते हैं तो बिजलिया गिरा देती हैं, बात करते हैं तो दीवाना बना देती हैं, हुस्न वालो की नज़र काम नहीं क़यामत से, आग पानी में वो नज़रों से लगा देती हैं… khubsurti ki tareef shayari in hindi

More on Pinerest shayari & Quotes by Shayari_Plus

Leave a Reply