You are currently viewing जिंदगी में चाहे कितनी भी खुशियाँ क्यूँ ना हो मगर…| gulzar shayari | hindi shayari | sad shayari |
जिंदगी-में-चाहे-कितनी-भी-खुशियाँ-क्यूँ-ना-हो-मगर

जिंदगी में चाहे कितनी भी खुशियाँ क्यूँ ना हो मगर…| gulzar shayari | hindi shayari | sad shayari |

  • Post category:Shayarish



anjalikashyap#hindishayari#sadshayari जिंदगी में चाहे कितनी भी खुशियाँ क्यूँ ना हो मगर…|| Hindi shayari | sad shayari | love shayari …

source