You are currently viewing कण कण में कर्ण है || कर्ण की शायरी || karan ki shayari with lyrics
-कण-में-कर्ण-है-कर्ण-की-शायरी

कण कण में कर्ण है || कर्ण की शायरी || karan ki shayari with lyrics

  • Post category:Shayarish



shaayri #karan # mahabharata #lyrics पांडवो को तुम रखो, मै कौरवो की भीड से तिलक शिकस्त के बीच में जो टूटे ना वो रीड़ मै सूरज …

source