Rahat Indori Famous Shayari बहुत ग़ुरूर है

Rahat Indori Famous Shayari बहुत ग़ुरूर है

बहुत ग़ुरूर है दरिया को अपने होने पर
जो मेरी प्यास से उलझे तो धज्जियाँ उड़ जाएँ

Leave a Reply