अपने ही घर में रहता हूं मेहमान की तरह

सारे हुक़ूक़ छीन चुके मेरे घर के लोग
अपने ही घर में रहता हूं मेहमान की तरह
Rekhta Pataulvi

Leave a Reply