You are currently viewing राहत इंदौरी – ग़ज़ल
-इंदौरी-ग़ज़ल

राहत इंदौरी – ग़ज़ल

[ad_1]

image shayari for बीमार को मरज़ की दवा देनी चाहिए मैं पीना चाहता हूँ पिला देनी चाहिए मैं सब्र हूँ तो मुझ को दुआ देनी…

[ad_2]

Source by choudhurypuja87