You are currently viewing नादान बहुत है वो ज़रा समझाइए उसे
-बहुत-है-वो-ज़रा-समझाइए-उसे

नादान बहुत है वो ज़रा समझाइए उसे

[ad_1]

कहो या ना कहो मुझसे तुम्हें मुझसे मोहब्बत है

नादान बहुत है वो ज़रा समझाइए उसे
कहो या ना कहो मुझसे तुम्हें मुझसे मोहब्बत है

More pinterest shayari by akshaygadavey