mohabbat e khuda shayari

mohabbat e khuda shayari

या ख़ुदा दर्द-ए-मोहब्बत में असर है कि नहीं
जिस पे मरता हूँ उसे मेरी ख़बर है कि नहीं
~Jaleel Manikpuri