@Paakhisharma14 ओह ओह कोई लम्हा नही जब ख्याल तुम्हारा न हो, तुम शामिल मेरे शाय…

@Paakhisharma14 ओह ओह 👌👌✍️

कोई लम्हा नही जब ख्याल तुम्हारा न हो,
तुम शामिल मेरे शायरी के लफ़्ज़ों में न हो,,
ये अलग है मैं बयां नही करता महफिले आम,
पर मेरी डायरी के हर कोरे पन्ने पर लफ्ज़ लफ्ज़
अल्फ़ाज़ मोहब्बत मेरा खुदा तुम हो,,
#बज़्म
#कुँवर_की_कल्पना ✍️
@Paakhisharma14 ओह ओह

कोई लम्हा नही जब ख्याल तुम्हारा न हो,
तुम शामिल मेरे शाय…

@Paakhisharma14 ओह ओह 👌👌✍️

कोई लम्हा नही जब ख्याल तुम्हारा न हो,
तुम शामिल मेरे शायरी के लफ़्ज़ों में न हो,,
ये अलग है मैं बयां नही करता महफिले आम,
पर मेरी डायरी के हर कोरे पन्ने पर लफ्ज़ लफ्ज़
अल्फ़ाज़ मोहब्बत मेरा खुदा तुम हो,,
#बज़्म
#कुँवर_की_कल्पना ✍️
#Paakhisharma14 #ओह #ओह #कई #लमह #नह #जब #खयल #तमहर #न #हतम #शमल #मर #शय

Twitter shayarish by कुँवर विजयेन्द्र सिंह जादौन

Leave a Reply