@mohd_ali_sahil मोहतरम आली जनाब मोहम्मदअली साहिल साहब आपके बारे में मैं और मेरे …

@mohd_ali_sahil मोहतरम आली जनाब मोहम्मदअली साहिल साहब आपके बारे में मैं और मेरे अज़ीज शायरी से मोहब्बत करने वाले दोस्तो की राय है कि—

चाँद का ख़्वाब उजालों की नज़र लगता है
तू जिधर हो के गुज़र जाए ख़बर लगता है

आप की यादों ने उगा रक्खे हैं सूरज इतने
शाम का वक़्त भी आए तो सहर लगता है
@mohd_ali_sahil मोहतरम आली जनाब मोहम्मदअली साहिल साहब आपके बारे में मैं और मेरे …

@mohd_ali_sahil मोहतरम आली जनाब मोहम्मदअली साहिल साहब आपके बारे में मैं और मेरे अज़ीज शायरी से मोहब्बत करने वाले दोस्तो की राय है कि—

चाँद का ख़्वाब उजालों की नज़र लगता है
तू जिधर हो के गुज़र जाए ख़बर लगता है

आप की यादों ने उगा रक्खे हैं सूरज इतने
शाम का वक़्त भी आए तो सहर लगता है
#mohdalisahil #महतरम #आल #जनब #महममदअल #सहल #सहब #आपक #बर #म #म #और #मर

Twitter shayarish by Mohammad Gaus Khan