You are currently viewing @Hrpl63243933 @

मेरी शायरी पढ़ कर
किसी ने पूछ ही लिया…
.
.
.
कभी इश्क हुआ था …
@Hrpl-@-मेरी-शायरी-पढ़-कर-किसी-ने-पूछ-ही

@Hrpl63243933 @ मेरी शायरी पढ़ कर किसी ने पूछ ही लिया… . . . कभी इश्क हुआ था …

[ad_1]

@Hrpl63243933 @

मेरी शायरी पढ़ कर
किसी ने पूछ ही लिया…
.
.
.
कभी इश्क हुआ था क्या ?
नजरें झुकीं औऱ हमने मुस्कुरा के कहा-
.
.
.
” आज भी है ”

#इश्क़
#किताब_के_शब्द https://t.co/Sd72O6gilO
[ad_2]

Source by ‘𝕊𝕒𝕔𝕙𝕚𝕟 𝕊𝕚𝕟𝕘𝕙’ ‘सचिन सिंह’👨🇮🇳

Leave a Reply