@HindiPoemz चलो कोई एक दोस्त तो है जो मेरे शायरी के अल्फाज को समझ रहा है शब्दों …

@HindiPoemz चलो कोई एक दोस्त तो है जो मेरे शायरी के अल्फाज को समझ रहा है शब्दों में तब निखार आता है जब सामने वाला उसे सही तरह से समझ सके वरना अल्फाज तो खूबसूरत होते हैं मगर उसको समझने वाला समझ से बाहर होता है दोस्ती का मतलब यह नहीं होता कि आपस में जुड़े रहे दूर रहकर भी दोस्ती महसूस की जाती
@HindiPoemz चलो कोई एक दोस्त तो है जो मेरे शायरी के अल्फाज को समझ रहा है शब्दों …

@HindiPoemz चलो कोई एक दोस्त तो है जो मेरे शायरी के अल्फाज को समझ रहा है शब्दों में तब निखार आता है जब सामने वाला उसे सही तरह से समझ सके वरना अल्फाज तो खूबसूरत होते हैं मगर उसको समझने वाला समझ से बाहर होता है दोस्ती का मतलब यह नहीं होता कि आपस में जुड़े रहे दूर रहकर भी दोस्ती महसूस की जाती
#HindiPoemz #चल #कई #एक #दसत #त #ह #ज #मर #शयर #क #अलफज #क #समझ #रह #ह #शबद

Twitter shayarish by Rashid Shekh

Leave a Reply