@__ummati__ अलफ़ाज़ तो बहुत हैं मोहब्बत बयान करने के लिए, पर जो खामोशी नहीं समझ …

@__ummati__ अलफ़ाज़ तो बहुत हैं
मोहब्बत बयान करने के लिए,
पर जो खामोशी नहीं समझ सकते
वो अलफ़ाज़ क्या समझेगे..😴😴

@Sufi_Ind_0

#only_शायरी…
@__ummati__ अलफ़ाज़ तो बहुत हैं
मोहब्बत बयान करने के लिए,
पर जो खामोशी नहीं समझ …

@__ummati__ अलफ़ाज़ तो बहुत हैं
मोहब्बत बयान करने के लिए,
पर जो खामोशी नहीं समझ सकते
वो अलफ़ाज़ क्या समझेगे..😴😴

@Sufi_Ind_0

#only_शायरी…
#ummati #अलफज #त #बहत #हमहबबत #बयन #करन #क #लएपर #ज #खमश #नह #समझ

Twitter shayarish by ABDUL HALEEM (صوفی)

Leave a Reply