You are currently viewing हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,
कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्य…
हर-बार-हम-पर-इल्ज़ाम-लगा-देते-हो-मोहब्बत-का

हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का, कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्य…

हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,
कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्यों हो?
#हिंदी_शब्द #शायरी #बज़्म #शायरांश
#Gazal #Gulzar
#Jaipur #LoveStory #mondaythoughts https://t.co/dwa3GGPzFK
हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,
कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्य…

हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,
कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्यों हो?
#हिंदी_शब्द #शायरी #बज़्म #शायरांश
#Gazal #Gulzar
#Jaipur #LoveStory #mondaythoughts https://t.co/dwa3GGPzFK
#हर #बर #हम #पर #इलजम #लग #दत #ह #महबबत #ककभ #खद #स #भ #पछ #ह #इतन #हसन #कय

Twitter shayarish by Manisha Choudhary

Leave a Reply