You are currently viewing हम लिखते रहते हैं,
प्यार करते रहते हैं।
हर घड़ी हर क्षण,
हम उनमें ढ़लते रहते हैं…

हम लिखते रहते हैं, प्यार करते रहते हैं। हर घड़ी हर क्षण, हम उनमें ढ़लते रहते हैं…

हम लिखते रहते हैं,
प्यार करते रहते हैं।
हर घड़ी हर क्षण,
हम उनमें ढ़लते रहते हैं।

– मृत्युंजय 🥀
#hindipoetry #hindishayari #poetry #poem #lovequotes #shayari #कविता #शायरी https://t.co/9zEUEBEqKm
हम लिखते रहते हैं,
प्यार करते रहते हैं।
हर घड़ी हर क्षण,
हम उनमें ढ़लते रहते हैं…

हम लिखते रहते हैं,
प्यार करते रहते हैं।
हर घड़ी हर क्षण,
हम उनमें ढ़लते रहते हैं।

– मृत्युंजय 🥀
#hindipoetry #hindishayari #poetry #poem #lovequotes #shayari #कविता #शायरी https://t.co/9zEUEBEqKm
#हम #लखत #रहत #हपयर #करत #रहत #हहर #घड #हर #कषणहम #उनम #ढलत #रहत #ह

Twitter shayarish by mritkirachnaye.online

Leave a Reply