हमें तो तुझ से बिछड़ने का डर लगता था। यकींन करो तुझ से बिछड मर सकता था। तुम्हे प…

[ad_1]

हमें तो तुझ से बिछड़ने का डर लगता था।
यकींन करो तुझ से बिछड मर सकता था।
तुम्हे पाने की चाह में, ही तो जिंदा था वो।
तेरे लिए तो वो, कुछ भी, कर सकता था।
#सूर्या_शायरी
#बे_करा़र
#हिंदी_शब्द
#बज़्म https://t.co/amXv4K3Ao3
[ad_2]

Source by ☀️सूर्यप्रताप सिंह चौहान☀️

Leave a Reply