You are currently viewing हमारे दरमियान रिश्ते भी अजीब हो गए हैं,
होती थी कभी खूब बातें अब इंतज़ार नहीं कर…
-दरमियान-रिश्ते-भी-अजीब-हो-गए-हैं-होती-थी

हमारे दरमियान रिश्ते भी अजीब हो गए हैं, होती थी कभी खूब बातें अब इंतज़ार नहीं कर…

[ad_1]

हमारे दरमियान रिश्ते भी अजीब हो गए हैं,
होती थी कभी खूब बातें अब इंतज़ार नहीं करते।

रिश्ते भी मजबूत हो रहे हैं हमारे इस कदर,
नंबर तो अब भी याद है हमें मगर फोन नहीं करते।।

✍️: जीवन

#शायरांश #शायरी #सरस #बज़्म #वाणी https://t.co/YBgoj19W78
[ad_2]

Source by JEEVAN DAS MANDLE

Leave a Reply