सवेरे-सवेरे हो खुशियों का मेला, न लोगों की परवाह न दुनिया का झमेला, परिंदों का श…

सवेरे-सवेरे हो खुशियों का मेला,
न लोगों की परवाह न दुनिया का झमेला,
परिंदों का शोर हो और मौसम अलबेला,
मुबारक हो आपको आज का सवेरा।

सुप्रभात प्रिय दोस्तो। 🌞❤️💐

#बज़्म
#shayari
#शायरांश
#शायरी
#हिंदी
#प्रेम
#दोस्ती
#HindiShayari
#जिंदगी
#इश्क
#बोलसुहाने
#काव्य
#काव्यांश
सवेरे-सवेरे हो खुशियों का मेला,
न लोगों की परवाह न दुनिया का झमेला,
परिंदों का श…

सवेरे-सवेरे हो खुशियों का मेला,
न लोगों की परवाह न दुनिया का झमेला,
परिंदों का शोर हो और मौसम अलबेला,
मुबारक हो आपको आज का सवेरा।

सुप्रभात प्रिय दोस्तो। 🌞❤️💐

#बज़्म
#shayari
#शायरांश
#शायरी
#हिंदी
#प्रेम
#दोस्ती
#HindiShayari
#जिंदगी
#इश्क
#बोलसुहाने
#काव्य
#काव्यांश
#सवरसवर #ह #खशय #क #मलन #लग #क #परवह #न #दनय #क #झमलपरद #क #श

Twitter shayarish by @VishalTripathi