You are currently viewing शेर-ओ-शायरी से अगर मोहब्बत ज़ाहिर होती…!!
तो हम कब का उनके गले का ताबीज़ बन गए…
शेर-ओ-शायरी-से-अगर-मोहब्बत-ज़ाहिर-होती-तो-हम-कब-का

शेर-ओ-शायरी से अगर मोहब्बत ज़ाहिर होती…!! तो हम कब का उनके गले का ताबीज़ बन गए…

शेर-ओ-शायरी से अगर मोहब्बत ज़ाहिर होती…!!
तो हम कब का उनके गले का ताबीज़ बन गए होते…!!
#मेरीशायरी❤️👸 https://t.co/TOVDmBYBRN
शेर-ओ-शायरी से अगर मोहब्बत ज़ाहिर होती…!!
तो हम कब का उनके गले का ताबीज़ बन गए…

शेर-ओ-शायरी से अगर मोहब्बत ज़ाहिर होती…!!
तो हम कब का उनके गले का ताबीज़ बन गए होते…!!
#मेरीशायरी❤️👸 https://t.co/TOVDmBYBRN
#शरओशयर #स #अगर #महबबत #जहर #हतत #हम #कब #क #उनक #गल #क #तबज #बन #गए

Twitter shayarish by #प्रिंसी_❤️👸❤️

Leave a Reply