#लफ़्ज़ों के चिराग #जलाकर #शायरी के उजाले कर दे #मेरे इक इक #हर्फ को #गजलों के…

[ad_1]

#लफ़्ज़ों के चिराग #जलाकर #शायरी के उजाले कर दे

#मेरे इक इक #हर्फ को #गजलों के हवाले कर दे

#मुझे सबूत भी देना होगा #मेरे #मुसाफ़िर होंने का

#ए रास्तें तू #अएसा कर मेरे #पाँव में भी #छाले कर दे
@zashuza
[ad_2]

Source by Nafisa

Leave a Reply