You are currently viewing रुबरु उन से सूर्या हम भी आज तक हुए नहीं हैं।
इश्क बेइंतिहा है पर उन्हें अभी तक छ…
रुबरु-उन-से-सूर्या-हम-भी-आज-तक-हुए-नहीं

रुबरु उन से सूर्या हम भी आज तक हुए नहीं हैं। इश्क बेइंतिहा है पर उन्हें अभी तक छ…

रुबरु उन से सूर्या हम भी आज तक हुए नहीं हैं।
इश्क बेइंतिहा है पर उन्हें अभी तक छूए नहीं हैं।
#बज़्म
#सूर्या_शायरी
#हिंदी_शब्द https://t.co/CRzzKWAPR3 https://t.co/srWD7lozCR
रुबरु उन से सूर्या हम भी आज तक हुए नहीं हैं।
इश्क बेइंतिहा है पर उन्हें अभी तक छ…

रुबरु उन से सूर्या हम भी आज तक हुए नहीं हैं।
इश्क बेइंतिहा है पर उन्हें अभी तक छूए नहीं हैं।
#बज़्म
#सूर्या_शायरी
#हिंदी_शब्द https://t.co/CRzzKWAPR3 https://t.co/srWD7lozCR
#रबर #उन #स #सरय #हम #भ #आज #तक #हए #नह #हइशक #बइतह #ह #पर #उनह #अभ #तक #छ

Twitter shayarish by ☀️सूर्यप्रताप सिंह चौहान☀️

Leave a Reply