You are currently viewing ये मोहब्बत का शहर है …
यहाँ सवेरा सूरज से नही…
किसी के दीदार से होता है…

…
ये-मोहब्बत-का-शहर-है-यहाँ-सवेरा-सूरज-से-नही

ये मोहब्बत का शहर है … यहाँ सवेरा सूरज से नही… किसी के दीदार से होता है… …

ये मोहब्बत का शहर है …
यहाँ सवेरा सूरज से नही…
किसी के दीदार से होता है…
👍💖
#शायरी
#मुस्कुराते_रहिए https://t.co/th6sb1DxbH

ये मोहब्बत का शहर है …
यहाँ सवेरा सूरज से नही…
किसी के दीदार से होता है…


ये मोहब्बत का शहर है …
यहाँ सवेरा सूरज से नही…
किसी के दीदार से होता है…
👍💖
#शायरी
#मुस्कुराते_रहिए https://t.co/th6sb1DxbH

#य #महबबत #क #शहर #ह #यह #सवर #सरज #स #नहकस #क #ददर #स #हत #ह

Twitter shayarish by raigulshan✋

Leave a Reply