You are currently viewing यूं तारीफ़ ना किया करों मेरी शायरी की, दिल टूट जाता हैं मेरा जब तुम मेरे दर्द पे…
यूं-तारीफ़-ना-किया-करों-मेरी-शायरी-की-दिल-टूट

यूं तारीफ़ ना किया करों मेरी शायरी की, दिल टूट जाता हैं मेरा जब तुम मेरे दर्द पे…

[ad_1]

यूं तारीफ़ ना किया करों मेरी शायरी की, दिल टूट जाता हैं मेरा जब तुम मेरे दर्द पे वाह वाह करते हों। https://t.co/kIyrMwnJyt
[ad_2]

Source by तन्हा ツ दिल ™️®️💔

Leave a Reply