You are currently viewing यु ना चाहो हमे मोहब्बत पे “गुरुर” हो जाए
कुछ यु चाहो की “लकीरो” मे हमे लिखने  के…

यु ना चाहो हमे मोहब्बत पे “गुरुर” हो जाए कुछ यु चाहो की “लकीरो” मे हमे लिखने के…

यु ना चाहो हमे मोहब्बत पे “गुरुर” हो जाए
कुछ यु चाहो की “लकीरो” मे हमे लिखने के लिये खुदा भी “मजबूर” हो जाए।
ऐसी खूबसूरत शायरी पढ़ने के लिए 🖤💔@Anas_hashmi_1 sir को फॉलो करो। https://t.co/9D47CXoHFn
यु ना चाहो हमे मोहब्बत पे “गुरुर” हो जाए
कुछ यु चाहो की “लकीरो” मे हमे लिखने के…

यु ना चाहो हमे मोहब्बत पे “गुरुर” हो जाए
कुछ यु चाहो की “लकीरो” मे हमे लिखने के लिये खुदा भी “मजबूर” हो जाए।
ऐसी खूबसूरत शायरी पढ़ने के लिए 🖤💔@Anas_hashmi_1 sir को फॉलो करो। https://t.co/9D47CXoHFn
#य #न #चह #हम #महबबत #प #गरर #ह #जएकछ #य #चह #क #लकर #म #हम #लखन #क

Twitter shayarish by 💫”अध्य”💫🍁

Leave a Reply