You are currently viewing मैं जानता हूँ तुम्हें पसन्द नहीं है,जरा सी भी कमी मोहब्बत में 
तभी तो अल्फ़ाज़ त…
मैं-जानता-हूँ-तुम्हें-पसन्द-नहीं-हैजरा-सी-भी-कमी

मैं जानता हूँ तुम्हें पसन्द नहीं है,जरा सी भी कमी मोहब्बत में तभी तो अल्फ़ाज़ त…

मैं जानता हूँ तुम्हें पसन्द नहीं है,जरा सी भी कमी मोहब्बत में
तभी तो अल्फ़ाज़ तक गिनती हो तुम मेरी शायरी के
#बज़्म https://t.co/7x9ydekQ6d
मैं जानता हूँ तुम्हें पसन्द नहीं है,जरा सी भी कमी मोहब्बत में
तभी तो अल्फ़ाज़ त…

मैं जानता हूँ तुम्हें पसन्द नहीं है,जरा सी भी कमी मोहब्बत में
तभी तो अल्फ़ाज़ तक गिनती हो तुम मेरी शायरी के
#बज़्म https://t.co/7x9ydekQ6d
#म #जनत #ह #तमह #पसनद #नह #हजर #स #भ #कम #महबबत #म #तभ #त #अलफज #त

Twitter shayarish by 🌹#आकाश मल्होत्रा🌹अनजाना

Leave a Reply