You are currently viewing माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही
पर ये सच है के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही
उस के…
-के-किस्मत-पे-मेरा-कोई-ज़ोर-नही-पर-ये

माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही पर ये सच है के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही उस के…

[ad_1]

माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही
पर ये सच है के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही
उस के दिल मे, उसकी यादो मे कोई और है लेकिन
मेरी हर साँस में उसके सिवा कोई और नही

#सुप्रभात #बज़्म #शायरांश
hindishayari#हिंदी_शब्द #पहल #अल्फ़ाज़े_बयां #सरस #hindishayari #hindipoetry #शायरी #shayari https://t.co/Hb98LLQ0lb
[ad_2]

Source by Simple Bunty

Leave a Reply