You are currently viewing , मतलब परस्ती थी या फिर मासूमियत —
खुदा जाने —
मैंने कहा #मोहब्बत है ‘ कहने …
-परस्ती-थी-या-फिर-मासूमियत-खुदा-जाने

, मतलब परस्ती थी या फिर मासूमियत — खुदा जाने — मैंने कहा #मोहब्बत है ‘ कहने …

,🥀 मतलब परस्ती थी या फिर मासूमियत —
खुदा जाने —
मैंने कहा #मोहब्बत है ‘ कहने लगे क्या मतलब —-!!!
,,,♥️♥️♥️
#शायरी
@shayari https://t.co/a7Edu1zBWm
, मतलब परस्ती थी या फिर मासूमियत —
खुदा जाने —
मैंने कहा #मोहब्बत है ‘ कहने …

,🥀 मतलब परस्ती थी या फिर मासूमियत —
खुदा जाने —
मैंने कहा #मोहब्बत है ‘ कहने लगे क्या मतलब —-!!!
,,,♥️♥️♥️
#शायरी
@shayari https://t.co/a7Edu1zBWm
#मतलब #परसत #थ #य #फर #मसमयत #खद #जन #मन #कह #महबबत #ह #कहन

Twitter shayarish by Mustuq Ali Gazi

Leave a Reply