You are currently viewing बकरों से की है दोस्ती जब जब कसाई ने
छुरियों की धार तेज़ की तब तब कसाई ने।

गर्दन…
बकरों-से-की-है-दोस्ती-जब-जब-कसाई-ने-छुरियों

बकरों से की है दोस्ती जब जब कसाई ने छुरियों की धार तेज़ की तब तब कसाई ने। गर्दन…

बकरों से की है दोस्ती जब जब कसाई ने
छुरियों की धार तेज़ की तब तब कसाई ने।

गर्दन कटी मिलीं हैं फिर धड़ से बहुत दूर
चारा बना के काटा बाद साहिब कसाई ने।

उसकी नज़र में प्यार बफा सब बेमानी हैं
रखा गोश्त से ही वास्ता मतलब कसाई ने।
#शायरी
#इजरायल
@BJP4UP
@KapilMishra_IND https://t.co/xvlW8lQACt
बकरों से की है दोस्ती जब जब कसाई ने
छुरियों की धार तेज़ की तब तब कसाई ने।

गर्दन…

बकरों से की है दोस्ती जब जब कसाई ने
छुरियों की धार तेज़ की तब तब कसाई ने।

गर्दन कटी मिलीं हैं फिर धड़ से बहुत दूर
चारा बना के काटा बाद साहिब कसाई ने।

उसकी नज़र में प्यार बफा सब बेमानी हैं
रखा गोश्त से ही वास्ता मतलब कसाई ने।
#शायरी
#इजरायल
@BJP4UP
@KapilMishra_IND https://t.co/xvlW8lQACt
#बकर #स #क #ह #दसत #जब #जब #कसई #नछरय #क #धर #तज #क #तब #तब #कसई #नगरदन

Twitter shayarish by KสvᎥ DeeƤสk

Leave a Reply