You are currently viewing पानी की लहरों की तरह खिलखिलाता मैं,
दो पल खुशी के लिए गम में डूब जाता मैं,
शायर …
पानी-की-लहरों-की-तरह-खिलखिलाता-मैं-दो-पल-खुशी

पानी की लहरों की तरह खिलखिलाता मैं, दो पल खुशी के लिए गम में डूब जाता मैं, शायर …

[ad_1]

पानी की लहरों की तरह खिलखिलाता मैं,
दो पल खुशी के लिए गम में डूब जाता मैं,
शायर की शायरी कहो या पल जिंदगी के,
मुसाफिर हूं यारों बस दो शब्द गुनगुना लेता हु ।।
#shankarshayari
#Shayariquotes
#NewProfilePic
#शायरी
#Ayodhya https://t.co/yzJsZkbm1E
[ad_2]

Source by Shankar 🔱

Leave a Reply