You are currently viewing नजरें जो उठाए तो मोहब्बत का गुमाँ हो,
नज़रों को झुकाए तो शिकायत सी लगे है…
#sh…
नजरें-जो-उठाए-तो-मोहब्बत-का-गुमाँ-हो-नज़रों-को

नजरें जो उठाए तो मोहब्बत का गुमाँ हो, नज़रों को झुकाए तो शिकायत सी लगे है… #sh…

नजरें जो उठाए तो मोहब्बत का गुमाँ हो,
नज़रों को झुकाए तो शिकायत सी लगे है…
#shayari #बज्म #शायरांश #शायरी https://t.co/vZOIeQshML
नजरें जो उठाए तो मोहब्बत का गुमाँ हो,
नज़रों को झुकाए तो शिकायत सी लगे है…
#sh…

नजरें जो उठाए तो मोहब्बत का गुमाँ हो,
नज़रों को झुकाए तो शिकायत सी लगे है…
#shayari #बज्म #शायरांश #शायरी https://t.co/vZOIeQshML
#नजर #ज #उठए #त #महबबत #क #गम #हनजर #क #झकए #त #शकयत #स #लग #हsh

Twitter shayarish by Baaghi®️

Leave a Reply