You are currently viewing दिखावे की #मोहब्बत 
पसंद आयी उसे 
रूहानी #इश्क़ के शायद 
काबिल नही था वो
जिसे रख…
-की-मोहब्बत-पसंद-आयी-उसे-रूहानी-इश्क़-के-शायद

दिखावे की #मोहब्बत पसंद आयी उसे रूहानी #इश्क़ के शायद काबिल नही था वो जिसे रख…

[ad_1]

दिखावे की #मोहब्बत
पसंद आयी उसे
रूहानी #इश्क़ के शायद
काबिल नही था वो
जिसे रखा छुपा कर
#दिल की पनाहो में हमने
हमारे लफ्ज़ो में उतरने के
काबिल भी नही था वो
#अवम #शायरी #हिंदी_शब्द #बातें_अनकही #मेरी_कविताएं #कुछ_पल_तेरे_संग https://t.co/LXeRiwiQDZ
[ad_2]

Source by भार्गव गुड़िया

Leave a Reply