टूट जाते है वो बंधन के धागे जो समझौतों की दहलीज पे टिके हो। जेर-ए-दरिया मे ढूंढ …

टूट जाते है
वो बंधन के धागे
जो समझौतों की
दहलीज पे टिके हो।
जेर-ए-दरिया मे
ढूंढ लेते तुमको
अगर पींदार-ए-मोहब्बत हो।।
#शायरी
#बज़्म
#हिंदी_शब्द #ShauryaAurAnokhiKiKahani
@kavishala @hindisopan
टूट जाते है
वो बंधन के धागे
जो समझौतों की
दहलीज पे टिके हो।
जेर-ए-दरिया मे
ढूंढ …

टूट जाते है
वो बंधन के धागे
जो समझौतों की
दहलीज पे टिके हो।
जेर-ए-दरिया मे
ढूंढ लेते तुमको
अगर पींदार-ए-मोहब्बत हो।।
#शायरी
#बज़्म
#हिंदी_शब्द #ShauryaAurAnokhiKiKahani
@kavishala @hindisopan
#टट #जत #हव #बधन #क #धगज #समझत #कदहलज #प #टक #हजरएदरय #मढढ

Twitter shayarish by Ranjeet

Leave a Reply