ज़रा सी फैलीं स्याही ज़रा से बिखरे ग़म भी हैं, शायरी केवल अल्फ़ाज़ नही इसमें छ…

ज़रा सी फैलीं स्याही ज़रा से बिखरे ग़म भी हैं,
शायरी केवल अल्फ़ाज़ नही इसमें छिपे कुछ हम भी है….❤️
ज़रा सी फैलीं स्याही ज़रा से बिखरे ग़म भी हैं,
शायरी केवल अल्फ़ाज़ नही इसमें छ…

ज़रा सी फैलीं स्याही ज़रा से बिखरे ग़म भी हैं,
शायरी केवल अल्फ़ाज़ नही इसमें छिपे कुछ हम भी है….❤️
#जर #स #फल #सयह #जर #स #बखर #गम #भ #हशयर #कवल #अलफज #नह #इसम #छ

Twitter shayarish by mishra_ji_ki_chhoti_beti🥰

Leave a Reply