जब संविधान पढ़ने की उम्र होती है, तब तो लव शायरी पढ़ते हो, कानून क्या खाक जानोगे…

[ad_1]

जब संविधान पढ़ने की उम्र होती है, तब तो लव शायरी पढ़ते हो, कानून क्या खाक जानोगे
जब तक कानून नही जानोगे, तब तक ऐसे ही शोषण होगा बहुजनों का
#ban_evm_किसान_आंदोलन_जारी_है
[ad_2]

Source by Md Sajid ਮੁਹੰਮਦ ਸਾਜਿਦ (OBC)

Leave a Reply