जब संविधान पढ़ने की उम्र होती है,, तब लव और शायरी पढ़ते हो, कानून क्या खाक जानोग…

जब संविधान पढ़ने की उम्र होती है,,
तब लव और शायरी पढ़ते हो,
कानून क्या खाक जानोगे साहेब,
जब संविधान पढ़ने की उम्र होती है,,
तब लव और शायरी पढ़ते हो,
कानून क्या खाक जानोग…

जब संविधान पढ़ने की उम्र होती है,,
तब लव और शायरी पढ़ते हो,
कानून क्या खाक जानोगे साहेब,
#जब #सवधन #पढन #क #उमर #हत #हतब #लव #और #शयर #पढत #हकनन #कय #खक #जनग

Twitter shayarish by मुजाहिद मेवाती ( Alig )

Leave a Reply