You are currently viewing खुबसुरत सा एक पल किस्सा बन जाता है,
न जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा‌ बन जाता है
क…

खुबसुरत सा एक पल किस्सा बन जाता है, न जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा‌ बन जाता है क…

खुबसुरत सा एक पल किस्सा बन जाता है,
न जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा‌ बन जाता है
कुछ लोग मिलते हैं जिंदगी में ऐसे भी,
जिनसे कभी न टुटने वाला रिश्ता बन जाता है।
कैसी लगी मेरी किसी की डायरी से चुरायी हुई शायरी। https://t.co/yyXAgRwpFs
खुबसुरत सा एक पल किस्सा बन जाता है,
न जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा‌ बन जाता है
क…

खुबसुरत सा एक पल किस्सा बन जाता है,
न जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा‌ बन जाता है
कुछ लोग मिलते हैं जिंदगी में ऐसे भी,
जिनसे कभी न टुटने वाला रिश्ता बन जाता है।
कैसी लगी मेरी किसी की डायरी से चुरायी हुई शायरी। https://t.co/yyXAgRwpFs
#खबसरत #स #एक #पल #कसस #बन #जत #हन #जन #कब #कन #जदग #क #हसस #बन #जत #हक

Twitter shayarish by Shahina Hayat 06