किसी गाँव मे अब शाम उतर रही होंगी, आईने के सामने कोई सावली सी लड़की सवर रही होग…

किसी गाँव मे अब शाम उतर रही होंगी,
आईने के सामने कोई सावली सी लड़की सवर रही होगी…!!😍🥀
डायरी की शायरी 🖋📖❤
_मिश्रा जी❤
किसी गाँव मे अब शाम उतर रही होंगी,
आईने के सामने कोई सावली सी लड़की सवर रही होग…

किसी गाँव मे अब शाम उतर रही होंगी,
आईने के सामने कोई सावली सी लड़की सवर रही होगी…!!😍🥀
डायरी की शायरी 🖋📖❤
_मिश्रा जी❤
#कस #गव #म #अब #शम #उतर #रह #हग #आईन #क #समन #कई #सवल #स #लडक #सवर #रह #हग

Twitter shayarish by Mishra ji 🇮🇳

Leave a Reply