ऐ मोहब्बत मुझे कुछ ज़ख्म और दे जा, लगता है मेरी शायरी में वो बात नही रही…!…

ऐ मोहब्बत मुझे कुछ ज़ख्म और दे जा,

लगता है मेरी शायरी में वो बात नही रही…!
ऐ मोहब्बत मुझे कुछ ज़ख्म और दे जा,

लगता है मेरी शायरी में वो बात नही रही…!…

ऐ मोहब्बत मुझे कुछ ज़ख्म और दे जा,

लगता है मेरी शायरी में वो बात नही रही…!
#ऐ #महबबत #मझ #कछ #जखम #और #द #जलगत #ह #मर #शयर #म #व #बत #नह #रह

Twitter shayarish by Sudhanshu Prasad