एक पान की दुकान मे एक युवा शायर कह रहे थे सच बोलना अगर गुनाह है तो मैं इसका आदी …

एक पान की दुकान मे एक युवा शायर कह रहे थे सच बोलना अगर गुनाह है तो मैं इसका आदी हूं लोग बोले वाहऽ वाहऽ वाहऽ तीन बार यही बोले और जैसे अंतिम पंक्ति बोले कि कहीं से आ रहे युपी पुलिस के दारोगा जी ने सुन लिया और वह शायरी नही करते हैं ____
एक पान की दुकान मे एक युवा शायर कह रहे थे सच बोलना अगर गुनाह है तो मैं इसका आदी …

एक पान की दुकान मे एक युवा शायर कह रहे थे सच बोलना अगर गुनाह है तो मैं इसका आदी हूं लोग बोले वाहऽ वाहऽ वाहऽ तीन बार यही बोले और जैसे अंतिम पंक्ति बोले कि कहीं से आ रहे युपी पुलिस के दारोगा जी ने सुन लिया और वह शायरी नही करते हैं ____
#एक #पन #क #दकन #म #एक #यव #शयर #कह #रह #थ #सच #बलन #अगर #गनह #ह #त #म #इसक #आद

Twitter shayarish by R .K 🚥

Leave a Reply