You are currently viewing इश्क की लत ऐसी लगी जनाब
कि अब पत्ते भी blind खेलते हैं  …
                    …
इश्क-की-लत-ऐसी-लगी-जनाब-कि-अब-पत्ते-भी

इश्क की लत ऐसी लगी जनाब कि अब पत्ते भी blind खेलते हैं  … …

[ad_1]

इश्क की लत ऐसी लगी जनाब
कि अब पत्ते भी blind खेलते हैं  …✍️
~कवि रवि 🍁

#brahmashmi20
#बज़्म #शायरी #हिंदी_शब्द https://t.co/uWTp5x30ib
[ad_2]

Source by कवि रवि रंजन ✍️✍️

Leave a Reply